• http://www.facebook.com/AshokGehlot.Rajasthan
  • http://blog.ashokgehlot.in
  • http://www.youtube.com/user/GehlotAshok
  • https://play.google.com/store/apps/details?id=com.ashokgehlot.app#?t=W251bGwsMSwyLDIxMiwiY29tLmFzaG9rZ2VobG90LmFwcCJd

प्रधानमंत्री-यूपीए अध्यक्ष ने किया घाट की गूणी सुरंग परियोजना का लोकार्पण


प्रधानमंत्री-यूपीए अध्यक्ष ने किया
घाट की गूणी सुरंग परियोजना का लोकार्पण
जयपुर के पूर्वी क्षेत्र में खुले विकास के नये द्वार



जयपुर, 19 जनवरी। प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह एवं यूपीए की अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी ने शनिवार को यहां जयपुर शहर के पूर्वी क्षेत्र में विकास के नये द्वार खोलते हुए ऐतिहासिक घाट की गूणी सुरंग परियोजना का लोकार्पण किया। जयपुर विकास प्राधिकरण द्वारा 150 करोड़ रुपये की लागत से इस योजना का बीओटी आधार पर निर्माण करवाया गया है।





प्रधानमंत्री, यूपीए अध्यक्ष तथा कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने लोकार्पण के बाद सुरंग का अवलोकन किया।



इससे पहले कार्यक्रम स्थल पर पहुंचने पर प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह, यूपीए चेयरपर्सन श्रीमती सोनिया गांधी का सूत की माला पहनाकर मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत, नगरीय विकास मंत्री श्री शांति धारीवाल, पूर्व मंत्री डॉ. चन्द्रभान, सांसद डॉ. महेश जोशी, जयपुर की मेयर श्रीमती ज्योति खण्डेलवाल तथा अतिरिक्त मुख्य सचिव नगरीय विकास श्री जी.एस. संधु ने स्वागत किया।



अरावली पर्वत की सुरम्य वादियों में स्थित इस परियोजना की कुल लम्बाई 2800 मीटर है जिसके तहत 870 मीटर लम्बाई की दो सुरंगे जहां शहर के बढ़ते यातायात दबाव को कम करने में मददगार बनेगी वहीं गुलाबी नगर के पर्यटन की शोभा भी बढ़ायेंगी। दोनों सुरंग 330 मीटर की दूरी पर आपस में जुड़ी हुई है। घाट की गूणी सुरंग परियोजना के शुरू होने से जयपुर से आगरा के लिए वैकल्पिक एवं सुरक्षित आवागमन सुविधा उपलब्ध होगी।


घाट की गूणी सुरंग परियोजना के तहत आधुनिक तकनीक युक्त कम्प्यूटर पेनल से नियंत्रित एवं संचालित यातायात होगा। इसमें जयपुर की वास्तुकला का प्रतिनिधित्व करते कंगूरे, छतरियां और गुलाबी आभा लिये दीवारें पर्यटकों को खासा आकर्षित करेंगी। सुरंग में अनेक सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं जिनमें वेंटीलेशन के लिए पंखे, टेलीफोन बूथ, अत्याधुनिक अग्निशमन यंत्र, पैदल यात्रियों के लिए फुटपाथ के साथ ही रोशनी की समुचित व्यवस्था की गई है। सुरंग में वायु प्रदूषण के नियंत्रण के लिए सेंसर व्यवस्था भी उपलब्ध है। ब्रेक डाउन अथवा दुर्घटना से निपटने के लिए सुरंगों में दो इन्टरकनेक्टिंग मार्ग बनाये गये हैं।



इस लोकार्पण कार्यक्रम का ई.टी.वी. द्वारा शहर के विभिन्न स्थानों पर स्क्रीन लगाकर सीधा प्रसारण किया गया। जिसे बड़ी संख्या में लोगों ने देखा।



कार्यक्रम में केन्द्रीय संस्कृति मंत्री श्रीमती चन्द्रेश कुमारी, वित्त राज्य मंत्री श्री नमोनारायण मीणा, ग्रामीण विकास राज्य मंत्री श्री लालचन्द कटारिया सहित राज्य मंत्री परिषद के सदस्य, संसदीय सचिव, राज्य के सांसद एवं विधायक, विभिन्न बोर्डों एवं आयोगों के अध्यक्ष, उच्चतम न्यायालय द्वारा गठित की गई एम्पावर्ड कमेटी के सदस्य, मुख्य सचिव श्री सी.के. मेथ्यू, पुलिस महानिदेशक श्री हरीश चन्द मीणा, जेडीए आयुक्त श्री कुलदीप रांका सहित जयपुर विकास प्राधिकरण के अधिकारी, कर्मचारी तथा शहर के गणमान्यजन उपस्थित थे।

Best viewed in 1024X768 screen settings with IE8 or Higher