• http://www.facebook.com/AshokGehlot.Rajasthan
  • http://blog.ashokgehlot.in
  • http://www.youtube.com/user/GehlotAshok
  • https://play.google.com/store/apps/details?id=com.ashokgehlot.app#?t=W251bGwsMSwyLDIxMiwiY29tLmFzaG9rZ2VobG90LmFwcCJd

जयपुर में यातायात सुविधा के लिए दो सोगातें जनता को समर्पित


मूलभूत सुविधाओं को बढ़ाने के लिए सरकार प्रयत्नशील - मुख्यमंत्री


मुख्यंमत्री श्री अशोक गहलोत ने आज यहां जयपुर में यातायात व्यवस्था और पार्किंग व्यवस्था को सुगम बनाने के लिए गुर्जर की थड़ी अण्डरपास तथा रामनिवास बाग भूमिगत पार्किंग का लोकार्पण कर शहर वासियों को दो सोगातंे दी।




मुख्यमंत्री ने पहले 35 करोड़ की लागत से निर्मित गुर्जर की थड़ी अण्डरपास को जनता को समर्पित किया। इस अण्डरपास के खुलने से गोपालपुरा बाईपास से मानसरोवर और अजमेर की तरफ जाने वाले लोगो को सुगम और सीधा रास्ता मिलेगा।


एम.आई. रोड़ पर रामनिवास बाग में दो मंजिला भूमिगत पार्किंग करीब 60 करोड़ रुपये की लागत से बनाया गया है। इसमें 1000 कारों के बराबर वाहनों की पार्किंग हो सकेगी। इस पार्किंग में वेंटीलेशन और रोशनी की पर्याप्त व्यवस्था के साथ वाहनों के प्रवेश और निकास के लिए दो मार्ग बनाये गये हैं।


मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर रामनिवास बाग स्थित रविन्द्र मंच पर आयोजित समारोह में नागरिकों को सम्बोधित करते हुए कहा कि जयपुर पर्यटन, वाणिज्य और व्यवसाय केन्द्र के रूप में अपना महत्वपूर्ण स्थान रखता है। आज के दिन शहर की इन सुविधाओं के प्रारम्भ होने से वाहन चालकों, पैदल चलने वालों, व्यवसायों एवं पर्यटको को सुविधा मिलेगी।


उन्होंने बताया कि जयपुर में मेट्रो रेल का कार्य चल रहा है और आशा करते हैं इसके प्रथम चरण का कार्य जून-जुलाई तक समाप्त हो। उन्होंने कहा कि मेट्रो के द्वितीय चरण का 22 किलोमीटर का कार्य भी हम शुरू करने के लिए प्रयत्नशील है।


उन्होंने कहा कि पिछले दिनों ही घाट की गूणी का प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह और यूपीए चेयरपर्सन श्रीमती सोनिया गाँधी ने उद्घाटन किया था। श्री गहलोत ने कहा यह घाट की गूणी विरासत को बचाने के लिए बनाई गयी है। उन्होंने कहा कि हम जयपुर को विश्वस्तरीय शहर बनाना चाहते हैं। इसके लिए उसी के अनुरूप आधारभूत सुविधाओं का विकास जरूरी है।


श्री गहलोत ने कहा कि जयपुर ही नहीं पूरे प्रदेश में मूलभूत सुविधाओं को बढ़ाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राजस्थान में 184 शहरों का मास्टर प्लान बना दिया गया है। जयपुर का 2025 तक का मास्टर प्लान बनाया गया है। राज्य में शहरों के नियोजित विकास के लिए राज्य शहरीकरण आयोग का गठन किया गया है। आवासीय जरूरतों को पूरा करने के लिए आवासीय योजनाएं बनाई गयी हैं। राज्य सरकार ने शहरी बीपीएल आवास योजना के तहत हर साल एक लाख शहरी बीपीएल परिवारों को आवास उपलब्ध करवाने का फैसला किया है। इसके तहत प्रत्येक परिवार को आवास के लिए 50 हजार रुपये और शौचालय के लिए 5 हजार रुपये उपलब्ध करवायें जायेंगे।


मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में प्रशासन शहरों के संग अभियान कामयाब रहा जिसमें एक लाख से अधिक पट्टे जारी किये गये। उन्होंने बताया कि प्रशासन गांवों के संग अभियान भी आम आदमी की समस्याओं को समाधान करने में सफल रहेगा।


मुख्यमंत्री ने राज्य में चल रही शैक्षणिक सामाजिक सुरक्षा, चिकित्सा सेवाएं आदि के बारे में भी विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने नागरिकों को आह्वान किया कि वे बच्चों को ज्यादा से ज्यादा शिक्षा दिलायें क्योंकि आने वाला कल शिक्षा का है।


नगरीय विकास मंत्री श्री शांति धारीवाल ने कहा कि आज का दिन जयपुर शहर के लिए ऐतिहासिक है क्योंकि गुर्जर की थड़ी अण्डरपास और रामनिवास बाग भूमिगत पार्किंग के शुरू होने से शहरवासियों को यातायात की जटिल समस्या से निजात मिलेगी। उन्होंने कहा कि श्री राहुल गाँधी ने जयपुर को वर्ल्ड क्लास सिटी बनाने का सपना दिखाया है। हम इस दिशा में विकास को गति देने में हर सम्भव प्रयास कर रहे हैं।


अतिरिक्त मुख्य सचिव नगरीय विकास श्री जी.एस. सन्धु ने सभी का स्वागत करते हुए दोनों प्रोजेक्ट की विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि ऐशियन डवलपमेंट बैंक के सहयोग से प्रदेश में 15 शहरों में मूलभूत सुविधाओं के लिए प्रोजेक्ट चल रहे हैं और 19 शहरों में ये प्रोजेक्ट शीघ्र ही और हाथ में लिये जायेंगे।


इस अवसर पर सांसद श्री महेश जोशी, विधायक श्री प्रतापसिंह खाचरियावास, महापौर श्रीमती ज्योति खण्डेलवाल, संसदीय सचिव श्री रामकेश मीणा आदि भी उपस्थित थे।
कार्यक्रम के अन्त में जेडीसी श्री कुलदीप रांका ने धन्यवाद दिया।
---

Best viewed in 1024X768 screen settings with IE8 or Higher