• http://www.facebook.com/AshokGehlot.Rajasthan
  • http://blog.ashokgehlot.in
  • http://www.youtube.com/user/GehlotAshok
  • https://play.google.com/store/apps/details?id=com.ashokgehlot.app#?t=W251bGwsMSwyLDIxMiwiY29tLmFzaG9rZ2VobG90LmFwcCJd

मंगला विकास पाईप लाईन का उद्घाटन सामुहिक प्रयास से होगा कायाकल्प -मुख्यमंत्री


जयपुर, 4 फरवरी। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने कहा है कि सामुहिक प्रयासों से प्रदेश का विकास का कायाकल्प करेंगे। उन्होने थार में प्राप्त तेल व लिग्नाईट की सम्पदा को प्रदेश के लिए अमूल्य सौगात बताया है। श्री गहलोत बुधवार को बाड़मेर जिले के नागाणा गांव में मंगला टर्मिनल से पाईप लाईन के उद्घाटन समारोह को सम्बोधित कर रहे थे।

इस मौके पर केन्द्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री श्री मुरली देवड़ा भी उपस्थित थे।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के पश्चिमी जिलों में खनिज तेल व प्राकृतिक गैस के विपुल भण्डार मिले हैं जिसकी बदोलत राज्य में विकास की गंगा बहेगी। उन्होंने कहा कि उन्होने पांच वर्ष पूर्व यहां सर्व प्रथम तेल कुए का नामकरण सरस्वती से किया था और यह उसी शुभ शुरूआत का नतीजा है कि यहां एक के बाद एक नये अन्वेषणों में तेल व प्राकृतिक गैस की प्राप्ति हो रही है। उन्हांेने कहा कि इस क्षेत्र में लिग्नाईट के भी भण्डार मिले हैं तथा कई पॉवर प्लान्ट लग रहे हैं जिनके जरिये क्षेत्र का विकास होगा। उन्होने कहा कि यह क्षेत्र सदियों से अकाल व सूखे से त्रस्त रहा है लेकिन अब यहां इस खनिज सम्पदा की बदोलत अपूर्व विकास होगा।
श्री गहलोत ने कहा कि यहां हाल ही में मिले नये तेल कुए का नामकरण शहीद तुकाराम ओमले के नाम पर रखा गया है जिन्होंने मुम्बई धमाकों में अपूर्व वीरता का प्रदर्शन करते हुए अपनी शहादत दी। उन्होने कहा कि बाड़मेर जिला सीमावर्ती जिला है तथा इसने कई युद्ध देखे हैं तथा यहां के लोग शहीदों को सलाम करना बखुबी जानते हैं। उन्होने कहा कि राजस्थान की धरती वीर प्रसुता है तथा इसने समय समय पर देश के लिए जान देने वाले वीरों को पैदा किया है। उन्होने बताया कि कारगिल के युद्ध में भी शहीद होने वालों में सर्वाधिक लोग राजस्थान के थे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार बाड़मेर में रिफाइनरी की स्थापना के लिए कृत संकल्प है तथा इसके लिए सभी संभव प्रयास किये जा रहे है। उन्होने राजधानी में पेट्रोलियम मंत्री श्री मुरली देवड़ा तथा ओएनजीसी के अध्यक्ष के साथ बैठक कर समुचित प्रयास किए हैं। उन्होंने कहा कि सरकार रिफाईनरी के लिए सभी वांछित रिहायते मुहैया करवायेगी। उन्होंने कहा कि दो कदम हम आगे बढ़ते हैं एक कदम आप आगे बढ़े। उन्होने कहा कि राजस्थान के लाखों लोगों को रिफाईनल का बेसब्री से इन्तजार है।
इस अवसर पर केन्द्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री श्री मुरली देवड़ा ने कहा कि भारत सरकार इस क्षेत्र के विकास के लिए पूरा सहयोग करेगी तथा रिफाइनरी समेत ऑयल व गैस के खनन में हर संभव सहायता की जाएगी। उन्होने कहा कि बाड़मेर में रिफाइनरी की स्थापना के लिए मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत स्वयं युद्ध स्तर पर प्रयास कर रहे हैं तथा उनके साथ उनकी बैठक भी हो चुकी है। उन्होने इस अवसर पर केयर्न एनर्जी को बधाई दी तथा तेल अन्वेषण के क्षेत्र में उनके प्रयास की सराहना की।
इस अवसर पर राजस्व मंत्री श्री हेमाराम चौधरी तथा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष श्री सी.पी. जोशी भी उपस्थित थे। केयर्न एनर्जी इण्डिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री राहुल धीर ने मुख्यमंत्री तथा पेट्रोलियम मंत्री का स्वागत किया तथा तेल क्षेत्र में कम्पनी की गतिविधियों से अवगत कराया। केयर्न एनर्जी के अध्यक्ष बिल गेमेल ने कम्पनी की प्रगति से अवगत कराते हुए आभार ज्ञापित किया। कार्यक्रम के बाद में मुख्यमंत्री तथा पेट्रालियम मंत्री ने मंगला तेल कुए तथा रिग का अवलोकन किया। बाद में उन्होने क्षेत्र के किसानों द्वारा आयोजित स्वागत समारोह में भाग लिया तथा उनकी समस्याओं को सुना।
इससे पूर्व मुख्यमंत्री तथा पेट्रोलियम मंत्री ने विधिवत रूप से पूजा अर्चना कर पाईप लाईन का उद्घाटन किया तथा शिलान्यास पट्टिका का अनावरण किया। मुख्यमंत्री तथा पेट्रोलियम मंत्री प्रातः 11.00बजे वायुयान से उतरलाई हवाई अड्डे पहुचे जहां उनका गुलदस्ते भेंट कर संभागीय आयुक्त श्री जे.पी. चन्देलिया तथा पुलिस महानिरीक्षक श्री राजीव दासोत एवं जिला कलेक्टर श्री रवि जैन ने स्वागत किया। वहीं विधायक श्री मेवाराम जैन, कर्नल सोनाराम चौधरी श्री अमीन खान, श्री मदन प्रजापत तथा श्री पदमाराम मेघवाल एवं जिला प्रमुख श्रीमती मदन कौर ने माल्यार्पण कर एवं ऊनी पट्टू ओढा कर स्वागत किया। मुख्यमंत्री के प्रथम बार बाड़मेर आगमन पर जगह-जगह लोगों ने स्वागत किया।
शहीद ओमले के नाम पर तेल कुए का नामकरण
मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत तथा केन्द्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री श्री मुरली देवड़ा ने बुधवार को नवीनतम तेल कुए का नामकरण शहीद तुकाराम ओमले के नाम पर रखा।
केयर्न इण्डिया द्वारा हाल ही में नये अन्वेषण किए गए तेल कुए का नाम मुम्बई बम धमाकों में जान गंवाने वाले शहीद तुकाराम ओमले पर रखा गया। इस अवसर पर केन्द्रीय पेट्रोलियम मंत्री देवडा तथा मुख्यमंत्री श्री गहलोत ने बताया कि शहीदों के प्रति यही सच्ची श्रद्धांजलि है।
मुख्यमंत्री श्री गहलोत ने बताया सीमावर्ती जिले के लोग युद्ध की परिस्थितियों से वाकिफ है तथा वे शहीदों की शहादत पर बखुबी नमन करते हैं।
प्रथम काश्तकार का मुख्यमंत्री ने किया सम्मान
बाड़मेर जिले में तेल अन्वेषण के लिए मंगला तेल कुए के लिए प्रथम बार जिस काश्तकार की जमीन अवाप्त हुई, उसका बुधवार को मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने साफा पहनाकर स्वागत किया।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने काश्तकार श्री तगाराम को साफा पहनाया तथा काश्तकारों से कहा कि उनकी जमीन का उचित मुआवजा दिया जाएगा। वहीं केन्द्रीय पेट्रोलियम मंत्री श्री देवडा ने श्री तगाराम के पुत्र अथवा पौत्र मे से एक को केयर्न एनर्जी में नौकरी दिलाने का आश्वासन दिया।

Best viewed in 1024X768 screen settings with IE8 or Higher