• http://ashokgehlot.in/blog
  • http://www.facebook.com/AshokGehlot.Rajasthan
  • http://www.youtube.com/user/GehlotAshok

Talked to media after Sanskrit Diwas Samaroh..

दिनांक
14/08/2019
स्थान
जयपुर


जयपुर में पिछले दो दिन से जो घटनाक्रम चल रहा है बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है, कोई ना कोई षड्यंत्र है इस कारण से लोगो को भड़का रहे है और इस प्रकार का माहौल बना दिया है... कल रात को 40 जगह से टेलीफोन आ रहे है की यहाँ पर बहुत तनाव है, लोग इक्कठे हो गए, अफवाहें फैलाई गई उसके बाद में करीब 15,20,25 जगह पर लोग इक्कठे हुए अफवाहों से, 5-7 जगह पर पत्थरबाजी कर दी तो यह कोई ना कोई षड्यंत्र है....यहां के आम लोगों को समझना चाहिए किसी तरह के षड्यंत्र का शिकार नहीं हो। जयपुर में, राजस्थान में पूरे प्रदेश के अंदर प्रेम, मोहब्बत, भाईचारा, सद्भाव कायम रहे और वो लोग जो पीछे छिप करके ऐसी हरकतें कर रहे हैं उनको सरकार सबक सिखाएगी, कड़ी से कड़ी कार्रवाई करेगी यहां ना धर्म और ना जाति बीच में आएगी यहां तो जो कानून को तोड़ेगा उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होगी यह हमारा मानना है। मैं अपील करना चाहूंगा जो जयपुरवासी है वो समझने का प्रयास करें पिछले 2 दिनों से जिस प्रकार से यह माहौल बनाया गया है उसमें शांति बनाए रखें सरकार उनके साथ में हमेशा खड़ी मिलेगी उनको न्याय मिलेगा और जो षड्यंत्र करने वाले लोग हैं उनके खिलाफ कार्यवाही होगी।
सवाल: राजनीतिकरण भी हो रहा है बीजेपी तो राज्यपाल तक पहुंच गई, कह रही हैं धरना प्रदर्शन भी करेंगे सरकार के खिलाफ?
: बीजेपी का काम तो यही है देखिए, उनका काम तो हम जानते हैं क्या काम है नई बात तो है नहीं उनके लिए, हम चाहते हैं ऐसे वक्त में बीजेपी हो या दूसरी पार्टियां हो किसी को हक नहीं है कि वह अशांति और हिंसा का माहौल बनाए, जरूरत है कि जयपुर में हम जिस प्रकार से विकास की योजनाएं बना रहे हैं, विकास पहले भी किया है और आगे भी करेंगे उस रूप में हमारी सोच है कि किस प्रकार यहां के लोगों को राहत मिले और विकास का लाभ मिले और आपस में प्रेम से रहे, भाईचारे के साथ रहे यह हमारा प्रयास रहेगा और जहां शांति और सद्भाव होता है वहीं विकास होता है पर कुछ मोहल्लों में जिस प्रकार का माहौल बनाया गया मैं समझता हूं वह अनफॉर्चूनेट है और मैं फिर अपील करना चाहूंगा मेरी मार्मिक अपील है प्रदेशवासियों से भी और जयपुरवासियों से भी कि राजस्थान को पूरे देश में उदाहरण पेश करना चाहिए कि राजस्थान की धरती पर जो लोग रहते हैं चाहे वो किसी भी कौम के हो, किसी भी धर्म के हो, किसी भी जाति के हो सब मिलकर के रह रहे हैं और सब मिलकर के आगे बढ़ना चाहते हैं, तमाम यहां के नागरिक और उनके परिवार जनों को मेरी शुभकामनाएं हैं और मैं उम्मीद करता हूं कि रक्षाबंधन भी आ रहा है, ईद तो अभी गई है, शिवजी के अभिषेक हुए हैं इस माहौल के अंदर सब को भाईचारे से रहना चाहिए यह मेरा मानना है।
सवाल: गुलाबचंद कटारिया ज्ञापन भी देने गए कमिश्नर के, उन्होंने बैठक भी की...
: कुछ एक्टिविटी उनको करनी चाहिए जो कर रहे हैं वो विपक्ष की भूमिका निभाये जहां हमारी गलती दिखे वहां धरना दे, प्रदर्शन करें शांति के साथ में, अहिंसा के साथ में तो हमें कोई शिकायत नहीं होगी उनसे, हम वह लोग नहीं है जो सरकार के खिलाफ बोलो तो देशद्रोही हो, राष्ट्र विरोधी हो हम वो पार्टी वाले लोग नहीं है। हमारी कांग्रेस पार्टी की विचारधारा, नीतियां, उनके कार्यक्रम और सिद्धांत जो महात्मा गांधी, पंडित जवाहरलाल नेहरू, सरदार वल्लभभाई पटेल, मौलाना अबुल कलाम आजाद, डॉक्टर अंबेडकर के वक्त में संविधान बना उसके आधार पर हम 70 साल से चलते आए हैं, हम चाहेंगे कि हमारी विपक्षी लॉबी है वो अपनी भूमिका निभाएं जो कांग्रेस की सरकार की ग़लतियां दिखे उसकी आवाज उठानी चाहिए मीडिया के अंदर भी, सड़कों पर भी हमें कोई एतराज नहीं होगा हम तो बल्कि उनको सपोर्ट करेंगे, कोई दिक्कत नहीं है पर हां जहां हिंसा होगी, तनाव पैदा करने की कोशिश करेंगे, कानून को तोड़ेंगे तो सरकार फिर चाहेगी कानून अपना काम करें फिर हम लोग किसी को बख्शेंगे भी नहीं।
सवाल: सर कल रक्षाबंधन और 15 अगस्त का पर्व है...
: मेरी बहुत-बहुत शुभकामनाएं, 15 अगस्त कल ही है मेरी प्रदेशवासियों को बहुत-बहुत शुभकामनाएं। यह दिवस हमें ज्ञात और अज्ञात उन सेनानियों की याद दिलाता है उन्होंने देश के लिए सब कुछ न्यौछावर कर दिया, अपनी जान दे दी, जेलों में बंद रहे उनके कारण हमें यह कीमती आजादी मिली है। इस दिन हम संकल्प करें कि इस देश को कैसे एक रखे, अखंड रखें, सभी जाति, सभी धर्म, सभी वर्ग उन सबको कैसे आगे बढ़ने के समान अवसर मिले यह हमारा प्रयास हो। हम सब मिलकर के प्रदेश को उन्नति के मार्ग पर आगे ले जाए यह हमारा संकल्प भी है और जनता से अपील भी है कि आप हमारा सहयोग करें, यह मेरी भावना है।
रक्षाबंधन का तो बहुत पावन त्यौहार है सरकार ने तो आगे बढ़कर के महिलाओं के लिए फ्री बस की सेवा भी कर रखी है यह परंपरा हमने ही शुरु करी थी कांग्रेस के शासन के अंदर भी आज भी कायम है। बहने अपने भाइयो को रक्षाबंधन के अवसर पर राखी बांधे और भाई संकल्प लेता है। बहुत पवित्र और पावन दिवस है, पूरी दुनिया के अंदर ऐसे त्योहारों से हिंदुस्तान की पहचान है जहां पर भाई जो है बहन की रक्षा का संकल्प करता है और बहन उसकी खुशहाली की दुआएं करती है। यह हमारे संस्कार, संस्कृति और परंपरा की खूबी है इस देश के अंदर उसको बनाए रखें और मजबूत करें यह मेरी भावना है।

Best viewed in 1024X768 screen settings with IE8 or Higher