• http://ashokgehlot.in/blog
  • http://www.facebook.com/AshokGehlot.Rajasthan
  • http://www.youtube.com/user/GehlotAshok

शक्ति प्रशिक्षक-प्रशिक्षण शिविर

दिनांक
11/02/2019
स्थान
जयपुर


लोकसभा चुनाव की तैयारी चल रही है। यह हमारे कार्यकर्ताओं का प्रशिक्षण शिविर है। इसके बाद में हर विधानसभा स्तर पर लगेंगे, कार्यकर्ताओं को ट्रेनिंग दी जाएगी। जो हमने व्यूहरचना बनाई है उसमें हमारे इन साथियों का बहुत बड़ा कॉन्ट्रिब्यूशन होगा। हम चाहते हैं हर मतदाता तक पहुंचें। लोकतंत्र में मतदाता तक पहुंचने के मायने हैं उसको मान-सम्मान देना।

प्रियंका जी महामन्त्री बने है और प्रथम विजिट है उनकी तो नेचुरल है की आप देख रहे हो कार्यकर्ताओ का उत्साह, उत्साह जब होता है तो स्वत: ही रोड़ शो हो जाता है उस रूप में देखते है कि एक सन्देश जाएगा पूरे UP में, पूरे देश के अंदर और चुनौती चुनाव की सबके सामने है जो भट्टा बैठाया देश का पांच साल के शासन में मोदी जी ने जो असत्य बोलकर के, झूठे वादे करके ब्लैकमनी लेकर के आएँगे, रोजगार देंगे दो करोड़ लोगो को, महंगाई कम कर देंगे, 15 लाख रूपये खाते में डाल देंगे ये सब जुमले साबित हुए। अच्छे दिन आएँगे, अच्छे दिन आते-आते पांच साल निकल गए इंतजार लोग अभी तक कर ही रहे है अब उन्होंने आशा छोड़ दी है इसलिए कांग्रेस ने नये सिरे से एक मेसेज दिया है हमारा एजेंडा किसान भी है, युवाओ का रोजगार भी है, महंगाई भी है और राफेल का मुद्दा भी है मोदीजी जवाब दे नहीं पा रहे है। प्रियंका गांधी जी गई है वहां पर रोड शो करेंगी, रोड शो ही नहीं करेगी बल्कि वो लगातार UP की दौरे करेगी और एक मैसेज जाएगा और माहौल बनेगा।
राहुल जी आ रहे है 14 को सेवादल का एक अधिवेशन है वहां पर, अजमेर के अंदर राहुल जी 14 को आएँगे
गुर्जर आन्दोलन के लिए मैं कह चुका हूँ बैंसला जी ने खुद ने अपील की शांति बनाये रखे और सरकार तैयार है पूरी मदद करने के लिए उनकी पहले की तरह, पहले भी पांच साल हमने कोई कमी नहीं रखी और बाकायदा डायलॉग रखे जो कर सकते थे हमने किया उसी का फायदा भी आज गुर्जर समाज को मिल रहा है। पूरा गुर्जर समाज जानता है की मेरे वक्त में जब मैं मुख्यमंत्री था पिछली बार जो हमने फैसला किया एक प्रतिशत का उसके कारण आज चाहे टीचर हो या चाहे अन्य सर्विसेज में हो पुलिस सर्विसेज में हो सब जगह बहुत बड़े रूप में फायदा मिल रहा है हमारे हाथ में था जो हमने कर दिया पांच प्रतिशत की मांग जो है हमने पूरी करदी हाईकोर्ट ने उसको स्वीकार नहीं किया है पिछली गवर्मेंट जब बीजेपी की थी उन्होंने कानून पास किया असेम्बली के अंदर, नोटिफाई किया वो भी मंजूर नहीं हो पाया अब तो खाली ये अपनी मांग को रखे केंद्र के सामने वो उनके उपर है की वो क्या फैसला करते है। हम चाहेंगे राजस्थान में शान्ति स्थापित रहे, सद्भाव रहे आधी ट्रेने जो है केंसल हो गई है, डाइवर्ट हो रही है तो नुकसान किसको हो रहा है? नुकसान देश को हो रहा है, इकॉनॉमी को हो रहा है, यात्रियों को तकलीफ हो रही है वो तकलीफ को भी बैसला जी और उनके साथियों को देखना चाहिए।
धरना देने से क्या फायदा बता दीजिए? तो मैं उनसे अपील करूँगा कि आप धरने से उठो सरकार से वार्ता करो और सरकार के स्तर पर जो भी होगा संभव मैं ये विश्वास दिलाता हूँ की उसमे कोई कमी नहीं आएगी।
भाजपा का काम है हमेशा भड़काऊ भाषण देते-देते यहाँ तक पहुंचे वो लोग उनका तो तरीका काम करने का वही है हमारा तरीका वो नहीं है हम सत्ता में आते है तो हम नहीं चाहते की खाली राजनीति करने के लिए किसी को भड़का दो, हमने पांच साल तक बैसला जी को कभी नहीं भड़काया की आप आन्दोलन पर उतर जाओ और वो भड़काते है तो उनकी फितरत है यह।
देखिए आने वाले वक्त में क्या क्या होगा आप इन्तजार कीजिए बीजेपी के अंदर भी, बीजेपी के लोग भी कोई खुश नहीं है जो शासन चल रहा है चाहे केंद्र का हो या चाहे जहाँ-जहाँ बीजेपी की सरकारे है वहां भी लोग समझ गए है की जो वादे किये थे वो वादे आज पूरे नहीं हुए तो जनता में जाके क्या जवाब दे? उनका कार्यकर्ता समझता है इस बात को और नेता समझते है इन बातों को।

Best viewed in 1024X768 screen settings with IE8 or Higher