• http://ashokgehlot.in/blog
  • http://www.facebook.com/AshokGehlot.Rajasthan
  • http://www.youtube.com/user/GehlotAshok

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जन्म शताब्दी मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में 41 सदस्यीय राज्य स्तरीय समिति गठित

दिनांक
09/03/2019
स्थान
जयपुर


जयपुर, 9 मार्च। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जन्म शताब्दी प्रदेशभर में हर्षोल्लास के साथ मनाई जाएगी। इसके उपलक्ष्य में वर्षभर विभिन्न विभागों के माध्यम से कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। इस दौरान होने वाले कार्यक्रमों एवं विभिन्न गतिविधियों की कार्ययोजना के निर्धारण तथा क्रियान्वयन के दिशा-निर्देश और मार्गदर्शन देने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में 41 सदस्यीय राज्य स्तरीय समिति का गठन किया गया है।

राष्ट्रपिता के सिद्धांतों, जीवन मूल्यों तथा आदर्शों के व्यापक प्रचार-प्रसार तथा युवा पीढ़ी को प्रेरित करने के लिए देश-प्रदेश के प्रमुख गांधीवादी विचारक एवं चिंतकों से विचार-विमर्श कर इन कार्यक्रमों की रूपरेखा तैयार की जाएगी। साथ ही समिति जयपुर में गांधी म्यूजियम एवं शोध केंद्र स्थापित करने सहित अन्य विषयों एवं गतिविधियों के संबंध में भी चर्चा कर दिशा-निर्देश प्रदान करेगी।

इस संबंध में जारी आदेश के अनुसार उप मुख्यमंत्री श्री सचिन पायलट, कला एवं संस्कृति मंत्री श्री बीडी कल्ला, स्वायत्त शासन मंत्री श्री शांति धारीवाल, उद्योग मंत्री श्री परसादीलाल मीणा, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल, सूचना एवं जनसम्पर्क मंत्री श्री रघु शर्मा, गोपालन मंत्री श्री प्रमोद भाया, अल्पसंख्यक मामलात मंत्री श्री शाले मोहम्मद, शिक्षा राज्यमंत्री श्री गोविंद सिंह डोटासरा, तकनीकी शिक्षा राज्यमंत्री श्री सुभाष गर्ग, मुख्य सचिव श्री डीबी गुप्ता, अतिरिक्त मुख्य सचिव उद्योग श्री सुबोध अग्रवाल, अतिरिक्त मुख्य सचिव गोपालन श्री पीके गोयल, प्रमुख शासन सचिव स्कूल शिक्षा डॉ. आर वेंकटेश्वरन, प्रमुख शासन सचिव सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता श्री अखिल अरोड़ा एवं शासन सचिव उच्च एवं तकनीकी शिक्षा श्री वैभव गालरिया समिति के सदस्य होंगे। पर्यटन कला एवं संस्कृति विभाग की प्रमुख शासन सचिव श्रीमती श्रेया गुहा समिति की सदस्य सचिव होंगी।

राष्ट्रीय युवा परियोजना, नई दिल्ली के संस्थापक एवं जाने-माने गांधीवादी चिंतक तथा विचारक डॉ. एसएन सुब्बाराव, पूर्व विधायक श्री रमेश पाण्ड्या एवं डॉ. श्रीगोपाल बाहेती, भगवान महावीर विकलांग सहायता समिति के फाउण्डर श्री डीआर मेहता, एकता परिषद भोपाल के अध्यक्ष श्री पीवी राजगोपाल, गांधी शांति प्रतिष्ठान नई दिल्ली के अध्यक्ष श्री कुमार प्रशांत, पूर्व महाधिवक्ता श्री जीएस बाफना, जोधपुर की गांधीवादी विचारक श्रीमती आशा बोथरा, गांधी अध्ययन केंद्र जोधपुर के श्री भावेन्द्र शरद जैन भावुक, ग्रामीण विकास विज्ञान समिति, जोधपुर की संस्थापक श्रीमती शशि त्यागी, जैसलमेर के गांधीवादी विचारक श्री गोर्वधन कल्ला, जयपुर के गांधीवादी विचारक श्री धर्मसिंह कटेवा, गांधीवादी विचारक श्री मनीष शर्मा, राजस्थान गौ सेवा समिति, जयपुर के अध्यक्ष श्री पवन जैन को समिति में विशेषज्ञ के रूप में शामिल किया गया है।

इसी प्रकार खादी सेवा संघ जयपुर के श्री रामदास शर्मा, राजस्थान समग्र सेवा संघ के अध्यक्ष श्री सवाई सिंह, महात्मा गांधी जीवन दर्शन समिति के कोटा के स्थानीय समन्वयक श्री पंकज मेहता, बूंदी के स्थानीय समन्वयक श्री राजकुमार माथुर और डूंगरपुर के स्थानीय समन्वयक श्री शंकरलाल यादव, जयपुर के सामाजिक कार्यकर्ता श्री हनुमान शर्मा तथा श्रीमती कुसुम जैन, गौ सेवा आयोग के पूर्व अध्यक्ष श्री गुलजारीलाल सोनी, अल्पसंख्यक आयोग के पूर्व अध्यक्ष डॉ. निजाम भी समिति में विशेषज्ञ के रूप में शामिल किए गए हैं।

कला, साहित्य, संस्कृति एवं पुरातत्व विभाग इस समिति का प्रशासनिक विभाग रहेगा।
---

Best viewed in 1024X768 screen settings with IE8 or Higher