• http://www.facebook.com/AshokGehlot.Rajasthan
  • http://www.youtube.com/user/GehlotAshok

Talked to media at Raj Bhavan (21 November):

दिनांक
21/11/2021
स्थान
Jaipur


सब लोग खुश हैं। आप देख रहे हो पूरे प्रदेश के अंदर वेलकम हुआ है, जितने हमारे जो पहली बार सोशल इंजीनियरिंग हुई है, जिस रूप में किया गया है, सभी वर्गों को, सभी कार्यकर्ताओं का सम्मान करने के लिए जिस रूप में ये पूरी कैबिनेट बनी है नई, एक प्रकार से जो 15 लोग नए लिए गए हैं, उसके बाद में पूरा मैं समझता हूं कि एससी-एसटी-ओबीसी-माइनॉरिटी सबको प्रयास किया गया है रीप्रजेंटेशन देने का, अच्छे ढंग से हुआ है, सब लोग बहुत खुश हैं। ये बात जरूर है कि विशेष परिस्थितियों में जो ये रीशफल हुआ है जिस रूप में, कुछ जिले में हम नहीं बना पाए हैं, पर हम लोग उन जिलों का विशेष ध्यान रखेंगे, बात करेंगे।

सवाल- फर्स्ट टाइमर वाला फॉर्मूला लगा?
जवाब- फर्स्ट टाइम वाला फॉर्मूला लगा, कई जगह हमारे खाली फर्स्ट टाइम टाइम वाले ही एमएलए हैं। तो पहली बार के फॉर्मूले से ये संभव नहीं हुआ कि हम सब जगह बना सकें सब जिलों के अंदर, पर हम लोगों ने भी सोच रखा है कि अगले चुनाव की तैयारी आज से ही शुरू हो गई है हमारी, उसी रूप में हम सबसे बात करेंगे, इनको जिम्मेदारी सौंपेंगे, किस प्रकार पब्लिक से संपर्क करना है, किस प्रकार उनकी समस्याओं का समाधान करना है, किस प्रकार मेनिफेस्टो को इम्प्लीमेंट करना है। नए रूप में आप देखेंगे पूरी कैबिनेट को और मैं समझता हूं कि जनता की आशाएं-अपेक्षाएं जो हैं इस सरकार से उनको पूरा करके हम दिखाएंगे और अगली बार वापस सरकार कांग्रेस की बने, ये जो जनता में भावना पैदा हुई इस बार, उस भावना को, उन अपेक्षाओं पर हम खरे उतरेंगे और अगली बार सरकार बनाने में हम लोग कामयाब होंगे।

सवाल- आपने कहा कि जो नहीं बन पाए हैं उनको
जवाब- ये तो कई लोग लग चुके हैं, कई लोग लग जाएंगे, प्रोसेस चल रहा है बराबर चल रहा है और आगे भी चलता रहेगा। अभी तो हमारे जो मुख्यमंत्री के एडवाइजर बनेंगे, पार्लियामेंट्री सेक्रेटरीज बनेंगे, बोर्ड कॉर्पोरेशन्स के चेयरमेन बनेंगे, तो प्रयास है कि अधिकांश एमएलए को हम लोग किस प्रकार से एडजस्ट करें, वो हमारा, आगे बढ़ते जाएंगे हम लोग।

Best viewed in 1024X768 screen settings with IE8 or Higher