• http://www.facebook.com/AshokGehlot.Rajasthan
  • http://www.youtube.com/user/GehlotAshok

Talked to ANI in Delhi

दिनांक
05/08/2022
स्थान
Delhi


अगर शांतिपूर्ण तरीके से डेमोक्रेसी के अंदर रैली निकलती है, आम जनता जुड़ती है तो सरकार की आँखें खुलती हैं कि वास्तव में जनता साथ दे रही है रैली का, इसका मतलब है कहीं न कहीं सरकार की नीतियों में चूक है तो सरकार को भी गुड गवर्नेंस के लिए इम्प्रूवमेंट का एक अवसर मिलता है... ये सरकार उससे भी चूकना चाहती है क्योंकि एरोगेंट है, अहम-घमंड में सरकार चल रही है विपक्ष के आंदोलन को कोई तवज्जो नहीं दे रही है ये इनके खुदके लिए घातक होगा मेरा मानना है। लोकतंत्र में इतनी छूट होनी चाहिए विपक्ष को कि वो खुलकर धरना-प्रदर्शन कर सके उससे गवर्नमेंट को ही फायदा होता है पर ये इतने अहम-घमंड में चल रहे हैं कि इन्हें किसी की परवाह ही नहीं है इनको खाली हिन्दू-मुस्लिम की राजनीति करनी है,उसमें ये कामयाब हो गए हैं पर कामयाब कब तक होंगे आखिर में तो लोगों को भूख मिटानी पड़ेगी,परिवार को पालना पड़ेगा,कब तब इनको सहन करेंगे और अब धीरे-धीरे लोग आने लग गए हैं।

Best viewed in 1024X768 screen settings with IE8 or Higher