• http://ashokgehlot.in/blog
  • http://www.facebook.com/AshokGehlot.Rajasthan
  • http://www.youtube.com/user/GehlotAshok

सांचौर में ऋण माफी योजना का शुभारंभ

दिनांक
08/02/2019
स्थान
जयपुर


राज्य सरकार किसानों और गरीबों के विकास के लिए तत्पर-मुख्यमंत्री
श्री अशोक गहलोत ने किसानों को ऋण माफी प्रमाण पत्र वितरित किए

जयपुर, 8 फरवरी। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने कहा है कि राज्य सरकार किसानों एवं गरीबों के विकास के लिए तत्पर है। गरीब तबके की सेवा करना हमारा परम कर्तव्य है। उन्होंने कहा कि इसके लिए राज्य सरकार ने जनहित में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए हैं और किए गए वादों को निभाया है।

श्री गहलोत शुक्रवार को जालोर जिले के सांचौर कस्बे में आयोजित किसान ऋण माफी योजना के शुभारम्भ समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने गठन के बाद किसानों के कोऑपरेटिव बैंक के 30 नवम्बर, 2018 तक के कृषि ऋणों को माफ करने का निर्णय लिया। हमने यह तय किया है कि अधिक से अधिक किसानों को कर्ज माफी योजना का फायदा मिले।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जिन किसानों ने समय पर कर्जा जमा करवाया है, उनके सम्मान स्वरूप उनके खातों में राशि जमा करवाएंगे। इसके लिए अन्य राज्यों की नीति का अध्ययन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती सरकार को कर्ज माफी के तौर पर सहकारी संस्थाओं को 8 हजार करोड़ रुपये देने थे, लेकिन उन्होंने महज 2 हजार करोड़ रुपये दिए थे। हमारी सरकार ने 6 हजार करोड़ रुपये का पूर्ववर्ती सरकार का भार होने के बावजूद किसानों को राहत देने के लिए कर्जा माफी का फैसला लिया।

श्री गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार भूमि विकास बैंक से ऋण लेने वाले किसानों का भी 2 लाख रुपये तक का कर्ज माफ करेगी। जिन किसानों ने पूर्व में कर्ज माफी मिलने के बाद 2-3 माह में कर्जा लिया है, उनका कर्जा भी माफ किया जाएगा। साथ ही, अन्य बैंकों से लिए गए कृषि ऋण को माफ करने के लिए कमेटी बनाई गई है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जालोर जिले में नर्मदा नहर का अधूरा कार्य पूरा करवाना उनकी प्राथमिकता रहेगी। जालोर, भीनमाल, रानीवाड़ा की पेयजल परियोजनाओं को जल्द पूरा करवाने के प्रयास किए जाएंगे। उन्होंने सांचौर में इसी सत्र में राजकीय महाविद्यालय शुरू करने की घोषणा भी की।
श्री गहलोत ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे सकारात्मक सोच के साथ जनहित में कार्य करें। उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती सरकार ने विकास योजनाओं की अनदेखी की, जिसकी वजह से राज्य में रिफाइनरी जैसे कई महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट्स पूरे नहीं हो पाए। उन्होंने कहा कि हमने पेंशन राशि में बढ़ोतरी करते हुए 500 से 750 रुपए एवं 750 से 1000 रुपए की है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार महात्मा गांधी, सरदार पटेल, बाबा साहेब अंबेडकर और पंडित जवाहर लाल नेहरु की भावनाओं के अनुरूप कार्य कर रही है।

समारोह में मुख्यमंत्री ने श्री पाबूराम, श्री सावता राम समेत कई किसानों को ऋण माफी प्रमाण-पत्र वितरित किए। इस अवसर पर राजस्व मंत्री श्री हरीश चौधरी ने कहा कि राज्य सरकार किसानों की है और उनके हितों की रक्षा की जाएगी। जालोर के प्रभारी मंत्री श्री भंवर सिंह भाटी ने कहा कि हमने जन घोषणा-पत्र में सभी वगोर्ं से किए गए वादों को निभाया है। राज्य सरकार ने जन घोषणा-पत्र को नीतिगत दस्तावेज का दर्जा दिया है और दो दिन में किसानों का कर्ज माफ करने का निर्णय लिया है।

सहकारिता मंत्री श्री उदयलाल आंजना ने कहा कि प्रदेशभर में 68,562 किसानों का ऋण माफ किया गया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने किसानों के हित में जो भी फैसले लिए हैं, उसकी क्रियान्विति की है। इस दौरान वन एवं पर्यावरण राज्यमंत्री श्री सुखराम विश्नोई, विधायक श्री मेवाराम जैन एवं श्री पदमाराम मेघवाल, पूर्व विधायक श्री हीरालाल विश्नोई एवं श्री रतन देवासी समेत बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधि, अधिकारी और किसान उपस्थित रहे।

----

Best viewed in 1024X768 screen settings with IE8 or Higher