• http://ashokgehlot.in/blog
  • http://www.facebook.com/AshokGehlot.Rajasthan
  • http://www.youtube.com/user/GehlotAshok

सेवादल राष्ट्रीय अधिवेशन।

दिनांक
14/02/2019
स्थान
अजमेर


सबसे पहले मैं अपनी ओर से आप सबकी ओर से राहुल जी का हार्दिक स्वागत करता हूँ। हमें ख़ुशी है कि राहुल जी जब से कांग्रेस के उपाध्यक्ष बने हो, या महामंत्री थे या अध्यक्ष बने हो उनके जेहन में हमेशा सेवादल के प्रति विशेष स्थान रहा है और यह हमारा सौभाग्य है सेवादल की जब से स्थापना हुई है उस समय के साथ-साथ में चाहे गांधी जी थे, पंडित नेहरु थे सभी के साथ में सेवादल का गहरा रिश्ता रहा है। ये सब आपको जानकारी में है पंडित नेहरू इसलिए कहा करते थे सेवादल कांग्रेस की रीढ़ की हड्डी है। जो सेवादल के साथी आज यहाँ पर बैठे हुए है देश के विभिन्न राज्यों से आये हुए मैं उनका भी अपनी और से अपने प्रदेश के साथियों की ओर से आप सबका मैं हार्दिक स्वागत करना चाहता हूँ और मुझे उम्मीद है ये अधिवेशन जो बहुत लम्बे अरसे बाद हो रहा है उसका अपना एक महत्व है इसका अपना एक सन्देश है पूरे प्रदेश को, पूरे देश को। सेवादल में प्रतिबद्धता है, निष्ठा है, सेवा भाव है जो कोई जिमेवारी आपको दी गई है आप उससे पीछे नहीं हटे हो ये इतिहास गवाह है। अभी लालजी भाई कह रहे थे आपको राजस्थान का हमारा अनुभव है राजीव जी के ज़माने में उन्होंने मेम्बर पार्लियामेंट को भी सेवादल की ट्रेनिग करवाई, मुझे भी सौभाग्य मिला मैंने भी सेवादल की ट्रेनिग करी मेरे साथ साथ में बाद में हमारे MLAs ने ट्रेनिग करी प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारी थे, मंत्री मंडल के साथी थे सबकी उस ज़माने में सेवादल की ट्रेनिग हुआ करती थी. जिस प्रकार से सेवादल ने अपना धर्म को निभाया और मुझे ख़ुशी है जो अभी कहा गया राजीव जी प्रधानमंत्री बने ही थे और जहाँ जहाँ वो गए विशेष रूप से आदिवासी क्षेत्रो के अंदर उसके बाद में उन्होंने घोषणा करी मैं जहाँ जा रहा हूँ उसके बाद में वहां की समस्याएँ है, लोगो की भावनाएं है या उनके वादे करते है उसका फोलोअप कौन करेगा? सबसे बड़ा विश्वास किया गया सेवादल पर, सेवादल प्रधानमंत्री फोलोअप प्रोग्राम का नजर रखेगा इस प्रकार का महत्व सेवादल को इस देश में मिला है। मुझे याद है की अभी लालजी भाई कह रहे थे भयंकर सूखा पड़ा था तीन-चार साल लगातर सूखा पड़ा था राजीव जी उस वक्त में प्रधानमंत्री थे तीन दिन की यात्रा, विश्व में कहीं नहीं हुआ होगा, तीन दिन कोई प्रधानमंत्री बाई रोड़ कोई गाड़ी चलाकर के उस वक्त में सोनियां गांधी जी उनके साथ में थी राजस्थान के 9 जिलो के दौरे किये गाँव-गाँव में गये, सुख दुःख पूछा गाँव वालो का, अकाल राहत के कामों को देखा, गायों के प्रबधन को देखा चारे की व्यवस्था को देखा, पानी की व्यवस्था को देखा, इस प्रकार के नया इतिहास बनाया था वो जमाना भी था जिस रूप में सेवादल ने साथ दिया उस वक्त में भी उसको हम कभी भूल नहीं सकते। इसलिए आज आपनी जिमेदारी बढ़ जाती है देश के सामने चुनौतीपूर्ण जो हालात देश में है अभी सचिन पायलट जी कह रहे थे किस प्रकार के हालातो में इस चुनौती को हमें स्वीकार करना है। किस प्रकार से हमें आने वाले चुनावों में अपनी भागीदारी निभानी है? देश में आज जो घृणा का माहौल है, हिंसा का है, अविश्वास का है, नफरत का है, संवेदनहीनता का है माहौल है उसका मुकाबला हमें करना है और हम लोगो में दमखम है। राहुल गांधी जी कह चुके है, देशवासियों को सन्देश दे चुके है हमारी किसी से कोई अदावत नहीं है, दुश्मनी नहीं है हमारी लड़ाई विचारधारा की है, सिद्धांतों की है, नीतियों की लड़ाई है और वो हम लड़ेंगे और अंतिम विजय सत्य की होगी और सत्य राहुल गांधी जी के साथ में है, कांग्रेस के साथ में है यह मैं आपको निवेदन करना चाहता हूँ। इसलिए हम सबका फर्ज बनता है जैसे हम जो राहुल जी ने एजेंडा बनाया है देश में कैसे किसानों का भला हो? उनमे खुशहाली आये, किस प्रकार से युवाओ को रोजगार मिले बड़े रूप में वो एजेंडा उनका है, महंगाई कैसे कम हो सके वो एजेंडा उनका है, करप्शन कैसे मिट सके जवाब देते नहीं बनता है प्रधानमंत्री से इससे बड़ा दुर्भाग्य क्या होगा? जिस प्रकार राहुल गांधी जी ने राफेल को मुद्दा बनाया रोज परते खुलती जा रही है, रोज की रोज आप देखते होंगे समाचार पत्रों में जवाब आ रहे है लोग संतुष्ट नहीं हो रहे है। इस प्रकार के हालत में ये आज बड़ा मुद्दा बना है इस सन्देश को भी लेके आपको जाना है गाँव गाँव में किस प्रकार से बड़े रूप में जो भ्रष्टाचार किया गया है और जवाब नहीं आ रहा है लोकतंत्र में जवाब आना बहुत जरुरी होता है इस रूप में राहुल जी ने एक बड़ा बहुत ऐतिहासिक काम किया है जिस प्रकार से हमारी UPA गवर्मेंट ने डॉक्टर मनमोहन सिंह जी प्रधानमंत्री थे, सोनिया गांधी जी चेयरपर्सन थी UPA की तब जो फैसले हुए थे वो फैसले ऐतिहासिक थे। नरेगा जो महात्मा गांधी के नाम से समर्पित है विश्व में ऐसी कोई योजना नहीं बनी है जो लागू हुआ कानून बना के लोकसभा के अंदर आज पूरे देश के अंदर प्रति व्यक्ति को गारंटी दी गई 100 दिन के रोजगार की ऐसा आज तक इतिहास में कभी नहीं हुआ जो काम सोनिया गांधी जी और मनमोहन सिंह जी ने कर दिखाया। शिक्षा का अधिकार दिया गया, फ़ूड सिक्योरिटी एक्ट लाये गए दो रूपये किलो गेहूं, तीन रूपये किलो चावल देने का यह भी कानून बना के अधिकार दिया गया है। RTI लेके आये बड़े बड़े फैसले हुए है और आपको जानके ख़ुशी होगी राजस्थान के अंदर हम लोगो ने BPL के लिए, स्टेट BPL के लिए, अन्त्योदय योजना के लोगो के लिए हमने दो रूपये की बजाय एक रूपये किलो गेहूं देने की हमने घोषणा ही नहीं करी लागू भी कर दिया है राजस्थान के अंदर ये मैं निवेदन करना चाहता हूँ।
और राहुल गांधी जी की ऐतिहासिक घोषणा हुई जो अभी न्यूनतम आमदनी, न्यूनतम आय प्रत्येक व्यक्ति की हो देश के अंदर ये दुनिया में कही नहीं हुआ है जो राहुल गांधी जी ने कहा हैं उसके मर्म को आपको हमें समझने की आवश्यकता है. अगर हम मर्म को नहीं समझेंगे तो बात को कह नहीं नहीं पाएँगे उसके पीछे भावना क्या है इस देश में कोई व्यक्ति भूखा नहीं सोये, भूखा नहीं रहे न्यूनतम उनकी आमदनी उनकी आय हो ये बीड़ा उठाया है राहुल गांधी जी और इस बीड़े को उठाने के बाद में हम सबका फर्ज बनता है की हम किस प्रकार से जो भी हमारे सेवादल के साथी है, यूथ कांग्रेस है, महिला कांग्रेस है, NSUI के साथी है, कांग्रेस जन है सबको हमें इस सन्देश को आगे पहुँचाना है इस प्रकार से जो एजेंडा तय किया है उसपे हम लोग खरे उतरेंगे मुझे पूरा विश्वास है।
इसलिए मैं लम्बी बात नहीं कहता हुआ आप सबको मैं आह्वान करूँगा की राजस्थान अजमेर की ये पावन धरा पर ख्वाजा साहब की दरगाह भी है, पुष्कर भी है देश-दुनिया के लोग आते है पावन धाम पर आप लोग बैठे हुए है, आये हुए है मैं उम्मीद करता हूँ की आप लोग संकल्प लेके जाएँगे की किस प्रकार आने वाले वक्त में चुनौतियों का मुकाबला करे जो आज देश को कमजोर कर रही है, लोकतंत्र को खतरा पहुंचा रही है देश को खतरा है, सविधान को खतरा है ये बातें हमारे जेहन में होनी चाहिए और आज भी देश कांग्रेस की तरफ देख रहा है, आज भी देश जानता है कांग्रेस की देश को जरूरत है और कांग्रेस एकमात्र पार्टी है जिसकी चोकियाँ पूरे देश हर गाँव में है जिसका अपना शानदार कुर्बानी, त्याग का बलिदान का इतिहास है आजादी के पहले का भी और आजादी एक बाद में भी आप सबको मालूम है किस प्रकार से इंदिरा गांधी जी ने अपनी जान देदी पर देश को एक और अखंड रखा, राजीव गांधी जी भी शहीद हो गए थे पर पूरे उपमहादीप में शांति बनाये रखने का प्रयास किया। क्या नहीं किया कांग्रेस ने? आजादी के पहले हमारे लोग किस प्रकार जेलों में बंद रहे, त्याग किये, बलिदान किये कुर्बानी दी, जेलों में बंद रहे फांसी के फंदे पर चढ़े हो, लाठियां खाई, गोलियां खाई हो पर देश को आजाद करवाया उस पार्टी के बारे में ये लोग जो सत्ता में आये है फासिस्टी लोग है इनकी सोच नहीं है लोकतंत्र की, वो लोग कहते है की कांग्रेस ने 70 साल में क्या किया? इनको पूछो आपने तो अपनी एक अंगुली भी नहीं कटाई है आजादी के आन्दोलन में आपको क्या अधिकार है यह कहने का? 70 साल में क्या किया जो कुछ भी किया आज आधुनिक हिंदुस्तान है वो कांग्रेस की नीतियों का, कार्यक्रमों का, सिद्धांतों का परिणाम है यह ही बात कहता हुआ मैं अपनी बात समाप्त करता हूँ. एकबार पुन: मैं राहुल जी का स्वागत करता हूँ धन्यवाद....जय हिन्द।

Best viewed in 1024X768 screen settings with IE8 or Higher